Lalitamba devi sadhna siddhi

ललिताम्बा साधना एक ऐसी श्रेष्ठ और दिव्य साधना है जो साधक को शून्य सिद्धि प्रदान करती है. शून्य सिद्धि होने के बाद साधक हवा से कुछ भी प्रकट कर सकता है.
ऐसा माना जाता है की इस उच्च स्तर की साधना के सिद्ध होने पर साधक को अनंत सिद्धियाँ प्राप्त होती है जिसमे शत्रु शमन और त्रिकालदर्शी बनना शामिल है.
साधक के जीवन की समस्त भौतिक और आध्यात्मिकता से जुड़ी कमियों को दूर करते हुए माँ ललिताम्बा उन्हें उच्च स्तर के साधक बनने में मदद करती है.
ऐसा माना जाता है की जो साधक इस साधना को सिद्ध करता है वो अपने और किसी के भी भूत और भविष्य को देखकर उसके बारे में जान सकता है. माँ ललिताम्बा को समस्त सिद्धियों की स्वामिनी माना गया है और ये ललिताम्बा साधना सिद्धि के अभ्यास को उच्च स्तर की साधनाओ में से एक बनाता है.
देवी के तो अनेक रूप होते हैं – जगदम्बा, दुर्गा, ‘तारा, काली, किन्तु इन दस महाविद्याओं से भी परे एक और स्वरूप है “ललिताम्बा” जो ब्रह्माण्ड के समस्त सिद्धियों की स्वामिनी है.

Follow us on Google News
ADVERTISEMENT
  • Trending
  • Comments
  • Latest